Updated : Sep 26, 2019 in Yojana

SECC लिस्ट 2021 | Link To Aadhaar Card | पूरी जानकारी

सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) लिस्ट 2021 | Socio Economic and Caste Census (SECC) List 2021

logo

सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) 2021 लिस्ट के अंतर्गत केंद्र सरकार दवारा जनगणना के लिए एक नया फैसला लिया गया है, जिसमें सामाजिक, आर्थिक और जाति  2021 की जनगणना लिस्ट में  देश के लोगो की पहचान के लिए आधार कार्ड का उपयोग करना अनिवार्य होगा|इस सूची को SECC 2021 की लिस्ट के आधार पर तैयार किया जाएगा। SECC 2021 BPL New  List में देश के सभी घरो के लोगो के नाम उनके आधार नंबर, बायोमेट्रिक की पहचान के अनुसार की जाएगी और आधार कार्ड दवारा सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना डेटा के तहत बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाएगी |

3

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

SECC जनगणना 2021 | SECC Census 2021  

देश में हर 10 साल प्रत्येक घर में जनगणना होती है, पहले ये जनगणना 2011 में हुई थी, अब ये जनगणना 2021 में होगी |साल 2021 में होनी वाली जनगणना की तैयारी के लिए एक बैठक बुलाई गई जिसमें केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी शामिल थे, राजनाथ सिंह जी के द्वारा 2021 में होने वाली जनगणना में पिछड़े वर्ग के डाटा को भी शामिल किया जायेगा |

SECC 2021 नई बीपीएल सूची | SECC 2021 New BPL List

भारत में जो भी सरकारी योजनाएं लागु हुई हैं, उनका लाभ सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना (SECC) सूची के आधार पर सभी नागरिको को दिया जाता है। लेकिन आगे जो योजनाएं लागु की जाएगीं उन सबका लाभ लोगो को सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना 2021 New BPL सूची के आधार पर मिलेगा| ग्रामीण  मंत्रालय 2021 में होने वाली SECC जनगणना के तहत देश के लाभार्थियों की पहचान आधार कार्ड के तहत की जाएगी।

SECC 2021 के दौरान एकत्र की जाने वाली जानकारी | Information to be collected during SECC 2021

  • घर
  • पेशा
  • शिक्षा
  • विकलांगता
  • धर्म
  • SC / ST स्टेटस
  • जाति / जनजाति का नाम
  • आय और रोजगार की विशेषताएं
  • आय का मुख्य स्रोत
  • परिसंपत्तियों का कब्ज़ा
  • आवास / आवास प्रकार
  • कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और नॉन-ड्यूरेबल्स
  • भूमि का स्वामित्व

उद्देश्य | An Objective

SECC लिस्ट 2021 का मुख्य उद्देश्य आधार कार्ड के तहत व्यकित की पहचान करना है, ताकि व्यकित को 2021 जनगणना सूची के आधार पर आने वाली सभी सरकारी योजनाओ का लाभ मिलता रहे।

7

SECC जनगणना 2021 मोबाइल ऍप के माध्यम से की जाएगी | SECC census 2021 will be done through mobile app

2021 में होने वाली जनगणना मोबाइल फ़ोन के माध्यम से की जाएगी। इसकी घोषणा केंद्रीय मंत्री अमित शाह जी के द्वारा हाल ही में कर दी गई है। पहले ये जनग़णना लिखित होती थी, लेकिन अब ये जनग़णना डिजिटल होगी। मतलब आपको अब आपके मोबाइल फोन में SECC जनगणना 2021 की सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी। 2021 में की जाने वाली जनगणना में लगभग 12000 करोड रुपये खर्च होने का अनुमान है। इस जनगणना लिस्ट के माध्यम से डिजिटल होने से लोगो को काफी लाभ प्राप्त होंगे | 

लाभ | Benefits

  • SECC 2021 जनगणना की जानकारी आवेदक को उसके मोबाइल फोन के माध्यम से प्राप्त होगी।
  • जनगणना के आँकड़े प्रकाशित होने में ज़्यादा समय नहीं लगेगा।
  • एकत्रित किये गए आँकड़ों को इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में संग्रहीत कर हमेशा के लिये सुरक्षित रखा जा सकता है।
  • इस कार्य को सुचारु रुप से चलाने के लिए लगभग 33 लाख प्रशिक्षित जनगणना कर्मियों की मदद ली जाएगी।
  • जनगणना कर्मी वर्ष 2020 में आवासों की सूची बनाने (House Listing) का काम करेगें और जनगणना का कार्य फरवरी 2021 से शुरू किया जाएगा।

6

  • इस जनगणना को वेबसाइट पर प्रकाशित किया जाएगा।
  • इस परिवर्तन से लोगों का जीवन सुखमय और डिजिटल वनेगा।
  • आवेदक की पहचान उसके आधार कार्ड के माध्यम से की जाएगी।
  • इससे धोखाधडी जैसी समस्या पर लगाम लगेगी।
  • SECC 2021 जनगणना के डेटा  के आधार पर ही देश के लोगो को सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त होगा।
  • जनगणना एक तरह की भागीदारी होती है जिससे लोगो की भागीदारी से ही सरकार दवारा भविष्य में निर्णेय लिए जाते हैं।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!