recruitment

Updated : Oct 09, 2019 in Yojana

इनकम टैक्स फेसलेस ई-असेसमेंट योजना | पूरी जानकारी | ऑनलाइन आवेदन

इनकम टैक्स फेसलेस ई-असेसमेंट योजना | Income Tax Faceless e-Assessment Scheme  

logo

आयकर विभाग दवारा 7 अक्टूबर 2019 को ई-असेसमेंट योजना को शुरु किया गया है। जिसे कराधान सुधार में बड़ी पहल माना जा रहा है। इस योजना के तहत करदाताओं और कर अधिकारियों के बीच आमना-सामना की जरूरत नहीं पड़ेगी। शुरुआत में राष्ट्रीय ई-आकलन केंद्र के तहत 58,322 आयकर मामलों का चयन किया गया है। इस योजना के अंतर्गत इनकम टैक्स विभाग को आपके बारे में जानकारी ऑनलाइन कम्युनिकेशन के दवारा प्राप्त होगी। यह योजना प्रधानमंत्री मोदी के उस विजन का हिस्सा है जिसमें करदाता को सुविधा देना प्रमुख वताया गया है। इस नई योजना के अंतर्गत  करदाताओं को नोटिस भेजने के लिए एक नेशनल ई-असेसमेंट सेंटर का गठन किया गया है। जिसके माध्यम से ये सेंटर प्रत्येक करदाता को उनके असेसमेंट से जुड़े विशिष्ट मुद्दों पर नोटिस भेजेगा। टैक्स विभाग खुद आपके रजिस्टर्ड ईमेल या फोन नंबर पर संपर्क करेगा और आपको उसी पर जवाब भी देना होगा। इस योजना को पूरे देश में लागू कर दिया गया है। नेशनल ई असेसमेंट सेंटर एक सिंगल एजेंसी होगी जो करदाता से संपर्क रखने में नोडल एजेंसी के रूप में काम करेगी। इस योजना के लिए 2686 ऑफिसर्स को काम पर लगाया गया है।

1

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

उद्देश्य | An Objective

इनकम टैक्स फेसलेस ई-असेसमेंट योजना का मुख्य उद्देश्य टैक्स अधिकारियों के सामने आए बिना करदाताओं की समस्याओँ को दूर करना है। जिससे असेसमेंट प्रक्रिया में कार्यक्षमता, पारदर्शिता और जिम्मेदारी की भावनाएं बढ़ेंगी और करदाता तथा आयकर अधिकारी का किसी प्रकार से आमना-सामना नहीं होगा।

लाभ | Benefits

  • नेशनल ई-असेसमेंट योजना के तहत असेसमेंट अधिकारी और करदाताओं का मानवीय संपर्क खत्म होगा।
  • बड़े स्तर (Economy of scale) पर काम होने से संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल होगा।
  • करदाताओं के लिए कानून का पालन बढ़ेगा।
  • पारदर्शिता और कार्यक्षमता बढ़ेगी। इससे असेसमेंट की गुणवत्ता और मॉनीटरिंग में सुधार होगा।
  • एक ही एजेंसी फेसलेस असेसमेंट का काम करेगी, इससे विशेषज्ञता बढ़ेगी।
  • मामले तेजी से निपटेंगे।
  • करदातों की शिकायतों का समाधान होगा।
  • सभी नोटिस और रसीद इलेक्ट्रॉनिक रूप में भुगतानकर्ता को भेजी जाएगी।
  • योजना से अधिक से अधिक लोगों को कर का भुगतान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • कर का भुगतान करने की प्रक्रिया पूरी तरह से स्वचालित होगी।

2

ऑनलाइन आवेदन | Online Apply

  • नेशनल ई-असेसमेंट योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन होगा।
  • करदाता अधिकारिक वेवसाइट पे जाएं। 
  • अब आपको “Income Tax Faceless e-Assessment Scheme” लिंक की खोज करनी है।
  • अब आपको दी गई जानकारी भरनी है।
  • अगर व्यक्ति को उसकी आय या अधिक नुकसान की सूचना दी गई है, तो धारा 143 (2) के तहत जांच का नोटिस जारी किया जाएगा।
  • नोटिस की प्राप्ति की तारीख से 15 दिनों के भीतर व्यक्ति को जवाब देना होगा। उसके बाद आपको बिभाग दवारा आपके मोबाइल नंबर/ इमेल आइडी पर नोटिफिकेशन भेजी जाएगी।
  • उसके वाद विभाग और करदाता के बीच सभी संचार इलेक्ट्रॉनिक रूप से किए जाएंगे।
  • राष्ट्रीय ई-मूल्यांकन केंद्र से पावती प्राप्त करने के बाद प्रतिक्रिया को सफलतापूर्वक प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!