Updated : May 20, 2020 in Yojana

मेरा पानी मेरी विरासत योजना | agriharyanaofwm.com | कैसे मिलेगा लाभ | आवेदन प्रक्रिया | पूरी जानकारी

Mera Pani Meri Virasat Yojana | लाभ / उद्देश्य / पात्रता / दसतावेज | How will the application be | हरियणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना

 

जल संरक्षण को वढावा देने और धान की बुआई न करने पर किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर दवारा मेरा पानी मेरी विरासत योजना को शुरु किया गया है। इस योजना के जरिए धान की बुआई या रोपाई नहीं करने वाले किसानों को सूक्ष्म सिंचाई पर भी 85% अनुदान दिया जाएगा। जिससे किसानों की दशा में सुधार होगा। क्या है ये योजना आइए जानते हैं।

मेरा पानी मेरी विरासत योजना | Mera Pani Meri Virasat Yojana

 

मेरा पानी मेरी विरासत योजना को हरियाणा के मुख्यमंत्री ने किसानों की भलाई के लिए शुरु किया है। इस योजना के तहत राज्य के डार्क जोन में शामिल क्षेत्रों में धान की खेती छोड़ने और धान के स्थान पर अन्य विकल्पित फसलों की बुआई करने वाले किसानों को 7000/- रुपये प्रति एकड़ की प्रोत्साहन धनराशि राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। योजना के पहले चरण में 19 ब्लॉक शामिल किए गए हैं, जहां पर भू-जल की गहराई 40 मीटर से अधिक है और इन ब्लॉक में शामिल 08 ऐसे ब्लॉक हैं, जहां पर धान की रोपाई अधिक की जाती है। जिनमें से कैथल के सीवन और गुहला, सिरसा, फतेहाबाद में रतिया और कुरुक्षेत्र में शाहाबाद, इस्माइलाबाद, पिपली और बबैन आदि ब्लॉक शामिल हैं। इसके अलावा वह क्षेत्र भी योजना के दायरे में शामिल किए जाएगें, जहां पर 50 हार्स पावर से अधिक क्षमता वाले ट्यूबवेल का इस्तेमाल किया जाता है। राज्य के किसान अगर धान भी बोते हैं तो वे पिछले साल की तुलना में आधी रोपाई करने के साथ  मक्का, अरहर, मूंग, उड़द, तिल, कपास, सब्जी की खेती भी कर सकते हैं। जिन ब्लॉक में पानी 35 मीटर से नीचे है, वहां पंचायती जमीन पर धान की खेती नहीं की जा सकती है और जहां पर पानी की उपलब्धता है वहां पर 50% धान की रोपाई की जाएगी। राज्य सरकार दवारा मक्का और दलहन की खेती में आवश्यक बुवाई आदि फार्म मशीनरी उपलब्ध कराने के साथ माइक्रो-इरीगेशन और ड्रिप इरीगेशन के लिए 80% सब्सिडी भी दी जाएगी| जिससे जल संरक्षण को वढावा मिलेगा और किसानो को फसल विविधिकरण अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

उद्देश्य | An Objective

मेरा पानी मेरी विरासत योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के डार्क जोन में शामिल क्षेत्रों में धान की खेती छोड़ने और धान के स्थान पर अन्य फसलों की बुआई करने वाले किसानों को राज्य सरकार दवारा आर्थिक सहायता उपलव्ध करवाना है।

पात्रता | Eligibility

  • हरियाणा राज्य के स्थायी निवासी
  • किसान वर्ग

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Documents

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • किसान क्रेडिट कार्ड
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नम्वर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

लाभ | Benefits

  • मेरा पानी मेरी विरासत योजना का लाभ हरियाणा राज्य के किसान भाइयों को मिलेगा।
  • इस योजना के जरिए मक्का, अरहर, मूंग, उड़द, तिल, कपास और सब्जी की खेती की जाएगी और इन फसलों की खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ही होगी।
  • योजना में वे क्षेत्र भी शामिल होगें, जहां पर 50 हार्स पावर से अधिक क्षमता वाले ट्यूबवेल का इस्तेमाल होता है।
  • पानी की उपलब्धता वाले क्षेत्र पर 50% धान की रोपाई की जाएगी।
  • जहां पानी 35 मीटर से नीचे है, वहां पंचायती जमीन पर धान की खेती नहीं होगी।
  • मक्का और दलहन की खेती में आवश्यक बुवाई आदि फार्म मशीनरी उपलब्ध कराने के साथ माइक्रो-इरीगेशन और ड्रिप इरीगेशन के लिए 80% सब्सिडी राज्य सरकार दवारा प्रदान होगी।
  • इस योजना से आने वाली नई पीढ़ियों को किसी भी प्रकार से पानी की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • किसानों को ऐसी खेती करने के लिए प्रोत्साहन दिया जाएगा, जिसमें सिंचाई हेतु जल का कम से कम प्रयोग हो सके।
  • इससे किसानों का आर्थिक पक्ष मजवूत होगा।
  • इस योजना से जल संरक्षण को भी वढावा मिलेगा।
  • जो किसान डार्क जोन में शामिल क्षेत्रों में धान की खेती छोड़ देंगे उन्हें सरकार द्वारा 7000/- रूपये प्रति एकड़ की प्रोत्साहन धनराशि राज्य सरकार दवारा प्रदान की जाएगी |
  • राज्य सरकार दवारा दी जाने वाली धन राशी लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन होगी।

मेरा पानी मेरी विरासत योजना के लिए कैसे करें आवेदन | How to apply for Mera Pani Meri Virasat Yojana

  • आपको इसमें दी गई सारी जानकारी सही-सही भरनी है।
  • सारी प्रक्रिया होने के बाद आपको सबमिट बटन पे किल्क कर देना है।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Downloads

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!