Updated : Dec 08, 2019 in Yojana

मध्य प्रदेश कैशलेस उपचार योजना | पूरी जानकारी | कैसे मिलेगा लाभ

मध्य प्रदेश कैशलेस उपचार योजना | Madhya Pradesh Cashless Treatment Scheme

 

मध्य प्रदेश सरकार दवारा राज्य के कर्मचारियों और पेंशनरों के इलाज के लिए कैशलेस उपचार योजना को शुरु करने की घोषणा की है। इस योजना के तहत इन कर्मचारियों को मध्‍यप्रदेश के चिन्हित निजी और सरकारी अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी। इस योजना को अगले साल अप्रैल से शुरू किया जाएगा। इस योजना के तहत प्रत्येक कर्मचारी के परिवार को सामान्य इलाज के लिए 5 लाख और गंभीर बीमारियों के लिए 10 लाख तक का कैशलेस इलाज मिलेगा। कैशलेस उपचार योजना का फायदा मध्‍यप्रदेश के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी मिलेगा। इस योजना के लिए इन कर्मचारियों को उनके वेतनमान के अनुसार 250 रुपए से लेकर 1000 रुपए तक मासिक अंशदान देना होगा। इस योजना के तहत ना सिर्फ भर्ती होने पर बल्कि ओपीडी में भी कर्मचारियों को इलाज की सुविधा मिलेगी। इस योजना से देश में मध्यप्रदेश पहला राज्य होगा जहां कर्मचारियों और पेंशनर्स को इलाज के लिए 10 लाख रुपए तक की मदद मिलेगी ।

उद्देश्य | An Objective

मध्य प्रदेश कैशलेस उपचार योजना का मुख्य उद्देश्य कर्मचारियों और पेंशनरों को निजी और सरकारी अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा देना है।

महत्वपूर्ण डाउनलोड | Important Download

पात्रता | Eligibility

  • मध्य प्रदेश के स्थायी निवासी
  • कर्मचारी और पेंशनर
  • राज्य सरकार दवारा कैशलैस इलाज सुविधा

महत्वपूर्ण दस्तावेज | Important Document

  • आधार कार्ड
  • स्थायी प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • रजिस्टड मोबाइल नम्वर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रमुख विशेषताएं |Major features

  • कैशलेस इलाज
  • कार्ड के आधार पर निशुल्क उपचार सुविधा
  • चुने हुए अस्पतालों में होगा इलाज
  • अंशदान की व्यवस्था
  • सूचीबद्द बिमारी

लाभ | Benefits

  • मध्य प्रदेश कैशलेस उपचार योजना का लाभ राज्य के कर्मचारी और पेंशनरों को मिलेगा।
  • इस योजना के तहत राज्य के इन कर्मचारियों को निजी और सरकारी अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा मिलेगी।
  • प्रत्येक कर्मचारी के परिवार को सामान्य इलाज के लिए 5 लाख और गंभीर बीमारियों के लिए 10 लाख के इलाज की सुविधा दी जाएगी।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए इन कर्मचारियों को उनके वेतनमान के अनुसार 250 रुपए से लेकर 1000 रुपए तक मासिक अंशदान अदा करना होगा।
  • इसके अलावा ओपीडी में भी इन कर्मचारियों को इलाज की सुविधा मिलेगी।
  • इस योजना के तहत अस्पतालों में इन कर्मचारियों के खाने-पीने का भी ध्यान रखा जाएगा।
  • इस योजना को पूरे राज्य में शुरु किया जाएगा।
  • राज्य के कर्मचारियों के स्वास्थय को लेकर अव कोई ढील नहीं होगी।

मध्य प्रदेश कैशलेस उपचार योजना के लिए आवेदन कैसे करें | How to apply for Madhya Pradesh cashless treatment scheme

  • यहां आपको इस योजना के लिए निजि और सरकारी अस्पतालों की सूची दी गई होगी। 
  • आपको अपनी सुविधा के अनुसार जहां पे ट्रिटमेंट करवाना है, उस अस्पताल का चयन करना है।
  • उसके बाद आपको उस अस्पताल में इस योजना के संवध में फार्म भरवाया जाएगा।
  • आपको इसमें दी गई सारी जानकारी भरनी है।
  • सारी प्रक्रिया होने के वाद आपको इस फार्म को जमा करवाना है।
  • सारी प्रोसेस होने के वाद आपको इस योजना का लाभ प्राप्त हो जाएगा।

आशा करता हूं आपको इस आर्टीकल के दवारा सारी जानकारी मिल गई होगी। आर्टीकल अच्छा लगे तो कोमेंट और लाइक जरुर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!